बागवानी

एक इंजीनियर की रूफ गार्डन में गुलजार होता जीवन और खिलखिलाते पौधे

गोविंद नारायण सिंह बरेली: पेड़ पौधे हमारे जीवन का बिल्कुल वैसा ही आधार है जैसे भोजन और जल । हालांकि भोजन और जल भी अप्रत्यक्ष रूप से बहुत हद तक पौधों पर निर्भर है । आदिकाल से ही मानव पेड़ पौधों की अहमियत समझता था ,प्रकृति की अहमियत जानता था इसीलिए दुनिया में विकसित हर …

एक इंजीनियर की रूफ गार्डन में गुलजार होता जीवन और खिलखिलाते पौधे Read More »

सब्जियों में सिंचाई

मनीष अग्रहरि लखनऊ: सब्जियों का 90 प्रतिशत या इससे अधिक भाग जल से बना होता हैै। एैसे में सब्जियाॅं जल के प्रति अतिसंवेदनशील होती है, ज्यादा सिंचाई और कम सिंचाई दोनो ही हालात सब्जियों पर भारी पड़ती है। जल पोषक तत्वों के लिए विलेय का काम करता है, जल के माध्यम से सारे पोषक तत्व …

सब्जियों में सिंचाई Read More »

एक शिक्षक का बागवानी प्रेम…

रविशंकर सिंह उत्तम खेती मध्यम बान। अधम चाकरी भीख निदान॥ अर्थ – सर्वश्रेष्ठ व्यवसाय खेती (कृषि) है। मध्यम कोटि का व्यवसाय वाणिज्य (व्यापार) है। नौकरी अधम है। इस लिहाज से देखें तो मेरे पुरखों का काम काफी उत्तम था यानी वे किसान थे। हालाकि छोटी जोत के किसान परिवारों की विडंबना ये भी रही है …

एक शिक्षक का बागवानी प्रेम… Read More »

औषधीय पौधों के क्षेत्र में भारत और पेरू के बीच सहयोग से संबंधित समझौते पर हस्ताक्षर को मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने राष्‍ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड, आयुष मंत्रालय, भारत सरकार और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ, स्वास्थ्य मंत्रालय, पेरू के बीच औषधीय पौधों के क्षेत्र में सहयोग से संबंधित समझौते पर हस्ताक्षर करने को मंजूरी दी है। प्रमुख प्रभावः दोनों देशों में औषधीय पौधों से संबंधित समृद्ध जैव विविधता …

औषधीय पौधों के क्षेत्र में भारत और पेरू के बीच सहयोग से संबंधित समझौते पर हस्ताक्षर को मंजूरी Read More »

पिपलांत्री गांव में बेटियों के जन्म पर लगाए जाते हैं पौधे…

मोईनुद्दीन चिश्ती पिपलांत्री, राजसमंद: बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सिर्फ नारा न रहे जमीनी ह​किकत बने इसके लिए पिपलांत्री के  ग्रामीणों ने एक राह दिखाई है। लगातार गिरते लिंगानुपात को लेकर चल रहे तमाम समाजशास्त्रीय विश्लेषण और राजनी​तिक चेतना का ध्वजवाहक बना पिपलांत्री के ग्रामीण पर्यावरण और मानव के बीच के अन्योन्नाश्रय संबंध को पुख्ता करते …

पिपलांत्री गांव में बेटियों के जन्म पर लगाए जाते हैं पौधे… Read More »

नोट बंदी से फलों की ब्रिकी कम लेकिन नहीं घटे दाम

पंचायत खबर टोली मऊ : नोटबंदी का तीसरा सप्ताह चल रहा है। सब्जी बाजार ने भले ही किसानों का दम निकाल दिया हो लेकिन फल बाजार सीना ताने हुए है। सब्जी के दाम में आशातीत गिरावट के बाद आमजन में फल के सस्ता होने की उम्मीद भी बरकरार है। हालांकि अभी तक दाम में कोई …

नोट बंदी से फलों की ब्रिकी कम लेकिन नहीं घटे दाम Read More »

देश भर में जैविक कृषि को बढ़ावा दे रही है सरकार: राधामोहन सिंह

सेवा भारती द्वारा देहरादून में आयोजित  किया गया जैविक खेती पर सम्मेलन संतोष कुमार सिंह देहरादून: केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री  राधा मोहन सिंह ने कहा है कि मौजूदा हालात में जैविक खेती के महत्व और उसके लाभ को ध्यान में रखकर  भारत सरकार देश भर में जैविक कृषि को बढ़ावा दे रही है। …

देश भर में जैविक कृषि को बढ़ावा दे रही है सरकार: राधामोहन सिंह Read More »

बोले कृषि वैज्ञानिक…बरसीम की तत्काल बोआई करें किसान

बोआई के बाद न दें पानी, 15 दिन पर छिड़कें यूरिया पंचायत खबर टोली मऊ : पशुपालन से संबंधित किसानों के लिए यह सचेत होने का समय है। हरा चारा के लिए बरसीम की बोआई का यह श्रेष्ठ काल चल रहा है। बोआई के दौरान गहरी सिंचाई व पलेवा करने के बाद मिट्टी बैठ जाने …

बोले कृषि वैज्ञानिक…बरसीम की तत्काल बोआई करें किसान Read More »

फसल बीमा के लाभ से वंचित हैं किसान..जमीं पर नहीं दिख रहा फायदा

फसल नष्ट होने के 48 घंटा के अंदर दें सूचना -योजना के प्रचार-प्रसार का प्रशासन को निर्देश पुरूषार्थ सिंह मऊ : खरीफ मौसम में प्रदेश के अनेक जनपदों में जल प्लावन सहित अन्य कारणों से फसल नष्ट होने के कगार पर है। अनेक जगह फसल नष्ट भी हो चुकी है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की …

फसल बीमा के लाभ से वंचित हैं किसान..जमीं पर नहीं दिख रहा फायदा Read More »