rain

गाद से लदी नदियों की सौगात है यह बाढ़

अमरनाथ झा चंपारण:बिहार के पश्चिम-उत्तर छोर पर पश्चिम चंपारण जिले के एक चॅंवर से निकलती है नदी सिकरहना, जो नेपाल की ओर से आने वाली अनेक छोटी-छोटी जलधाराओं का पानी समेटते हुए चंपारण, मुजफफरपुर, समस्तीपुर जिलों से होकर खगड़िया जिले मेें गंगा में समाहित हो जाती है। यह पूरी तरह मैदानी नदी है और गंडक …

गाद से लदी नदियों की सौगात है यह बाढ़ Read More »

झूमी-झूमी बदरा छाय रे..अन्न दाता मुस्काये रे..

संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली:मानसून आ गया है। झूम—झूम के बदरा बरसने की संभावना है। बच्चों के चेहरे पर मुस्कान है। किसान अपने खेत की ओर निहार रहा है। मेड़ बांधने की तैयारी है। फसल लहलहायेगी। इतना ही महानगरों में भी लोगों ने छतरियां निकाल ली हैं। जल जमाव के आशंका से नाले की सफाई …

झूमी-झूमी बदरा छाय रे..अन्न दाता मुस्काये रे.. Read More »