Hemant Soren

समझ रहा है कॉरपोरेट इंडिया…भविष्य गांव का ही है

संकल्प सिन्हा तुलसी दास ने लिखा है धीरज धर्म मित्र अरु नारी। आपद काल परिखिअहिं चारी॥ अर्थात धैर्य, धर्म, मित्र और स्त्री- इन चारों की विपत्ति के समय ही परीक्षा होती है। लेकिन इस कोरोना रूपी महामारी के इस दौर में जब पूरा देश लॉक डाउन में था तो इन चारों की तो परीक्षा हो …

समझ रहा है कॉरपोरेट इंडिया…भविष्य गांव का ही है Read More »

मुखिया इंदु देवी ने बढ़ाया प्रदेश का मान, दो राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित होगा कपिलो पंचायत

देश में बेहतर काम करने वाली पंचायतों को प्रत्येक वर्ष पंचायती राज दिवस पर राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा जाता है। कुछ पंचायतों को पंडित दीन दयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार दिए जाते हैं तो कुछ पंचायतों को नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा अवार्ड। इसके साथ ही कुछ पंचायतों को बाल मैत्री अवार्ड से भी …

मुखिया इंदु देवी ने बढ़ाया प्रदेश का मान, दो राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित होगा कपिलो पंचायत Read More »

शहर में टूटे सपनों को गांव में पूरा करने की होगी जद्दोजहद

दीपक कुमार आजी से सुनते थे कि फलाना इतने कोस पैदल चलकर अपने बेटी के यहां जाते थे तो चिलना उतने कोस चलकर पहुनाई करते थे। यह बात हमारे लिए किसी ब्रेकिग न्यूज़ से कम न थी। जब समझने-बूझने लायक हुये तो गांव में साइकिल की पहुंच हो चुकी थी, कुछ एक घर में मोटरसाइकिल …

शहर में टूटे सपनों को गांव में पूरा करने की होगी जद्दोजहद Read More »

हम सरकार का बोझा कम कर देंगे

  कमलेश कुमार सिंह रोविंग एडिटर बहुत मदद नहीं, बस थोड़ा सा मदद कर दे, सरकार। हम जीत जाएंगे। राकेश राय। हाल ही में लौटे प्रवासी मजदूरों में से एक। कोरोना वायरस ने उसका रोजगार और तीन महीनों की जमा-पूंजी को निगल गया। राकेश, ‘हमको नहीं लगता कि जल्दी हालात सुधरेेगा। इसलिए घर-परिवार के साथ …

हम सरकार का बोझा कम कर देंगे Read More »

मजदूरों की महावापसी…लिखी जा सकती है पिछड़े इलाकों में समृद्धि की पटकथा

प्रो डॉ पवन कुमार सिंह रोजगार मूलक संसाधनों की कमी और अत्यधिक जनसंख्या-घनत्व के कारण अविभाजित बिहार और उत्तर प्रदेश, खासकर भोजपुरी भाषी क्षेत्र से प्रवास पर निकलकर कमाने के लिए परदेस जाने की परम्परा काफी पुरानी है। चाहे गिरमिटिया मजदूर के रूप में जाकर मॉरीशस, सूरीनाम, फिजी या त्रिनिदाद को आबाद करना हो अथवा …

मजदूरों की महावापसी…लिखी जा सकती है पिछड़े इलाकों में समृद्धि की पटकथा Read More »

गांव का पुनर्निर्माण:ग्राम स्वराज्य ही विकल्प

तीसरी सरकार अभियान के संयोजक डॉ चंद्रशेखर प्राण पंचायती राज व्यवस्था को उसके वास्तविक स्वरूप में जमीन पर लागू किया जा सके इसके लिए सतत रूप से प्रयासरत है। उन्होंने यथावत पत्रिका में इस विषय पर एक लंबा लिखा है। उस लेख को पंचायत खबर सीरिज के रूप में आपके सामने प्रस्तुत कर रहा है। …

गांव का पुनर्निर्माण:ग्राम स्वराज्य ही विकल्प Read More »

प्रवासी मजदूर बोझ नहीं, हमारी तरक्की के देवदूत हैं

तरक्की की राह। प्रवासी मजदूरों के घर वापसी के बाद, क्या हो आगे का रोड मैप। पंचायत खबर संभावनाओं और उम्मीदों की कड़ी दर कड़ी आपके सामने लाएगा। पढते रहिए, पढाते रहिए। प्रवासी मजदूरी बोझ नहीं हमारी तरक्की के देवदूत हैं। इस कड़ी में पढ़िए पंचायत खबर के रोविंग एडिटर कमलेश कुमार सिंह की ये …

प्रवासी मजदूर बोझ नहीं, हमारी तरक्की के देवदूत हैं Read More »

डबल इंजन न हो लेकिन डबल इच्छाशक्ति से प्रवासियों को वापस लाने में जुटे हेमंत सोरेन

मंगरूआ रांची: लॉकडाउन में जब कुदरत को वापस अपनी खोयी ज़मीन वापस पाने का मौक़ा मिला। झारखण्ड से सुंदर धरती पर कुछ भी नहीं। “गर फिरदौस बर रूये ज़मी अस्त/ हमी अस्तो हमी अस्तो हमी अस्तो” (धरती पर अगर कहीं स्वर्ग है, तो यहीं है, यहीं है, यही हैं)। और उस स्वर्ग में जब हेमंत …

डबल इंजन न हो लेकिन डबल इच्छाशक्ति से प्रवासियों को वापस लाने में जुटे हेमंत सोरेन Read More »

तालाबंदी में आई गांव की याद, खत्म होते ही शहर लौटना चाहते हैं श्रमिक

प्राक्सिस ने कराया अध्ययन, जाना लॉक डाउन में गांव वापस लौटने वाले श्रमिकों का हाल बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश लौटने में कामयाब हुए 238 प्रवासी श्रमिकों से की गई  बातचीत संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली: शहर बसाने वाले अब गांव के रास्ते में हैं, ये चुनौती नहीं गांव के लिए अवसर है। केंद्र सरकार …

तालाबंदी में आई गांव की याद, खत्म होते ही शहर लौटना चाहते हैं श्रमिक Read More »

झारखंड के कपिलो पंचायत ने फिर बढ़ाया प्रदेश का मान..पंचायत को मिलेगा नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार

संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली: शाषण की सबसे निचली इकाई यानी ग्राम पंचायत जब मजबूत होती है तो लोकतंत्र मजबूत होता है। तीसरी सरकार मजबूत होती है, गांव मजबूत होता है। वैसे भी कोरोना महामारी काल में जब लोग गांव लौटने लगे हैं तो गांव में रौनक है, भले ही सोशल डिस्टेंशिंग के कारण सरकारी …

झारखंड के कपिलो पंचायत ने फिर बढ़ाया प्रदेश का मान..पंचायत को मिलेगा नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार Read More »