giriraj singh

पैतृक गॉंव चमथा में बीते बचपन के दिन भी क्या दिन थे

वैसे तो मेरा जन्म 1958 में सीवान जिला के रघुनाथपुर के पुलिस क्वार्टर में हुआ लेकिन पूरा बचपन पैतृक गॉंव चमथा में बीता। पिताजी स्व. रामराज सिंह पुलिस अफसर थे और मेरे जन्म के समय रघुनाथ पुर में पोस्टेड थे। माँ शिवदुलारी देवी गृहिणी महिला थीं। मैं चार भाई और एक बहन में दूसरे नंबर …

पैतृक गॉंव चमथा में बीते बचपन के दिन भी क्या दिन थे Read More »

बदलते समय के साथ पीछे छूटती परंपरायें, लेकिन बरकरार है बोधा छपरा के ग्रामीणों में अपनत्व

बिहार के सारण जिले ​में दिघवारा प्रखंड के अंतर्गत अवस्थित ग्राम बोधा छपरा ऐतिहासिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है। शक्ति् पीठ अंबिका स्थान इस गांव की सीमा में पूर्वी छोड़ पर विद्यमान है। गांव का नाम यहां के ही एक ग्रामीण श्री बोधा सिंह के नाम पर पड़ा है। बोधा सिंह दो भाई थे। बड़े भाई …

बदलते समय के साथ पीछे छूटती परंपरायें, लेकिन बरकरार है बोधा छपरा के ग्रामीणों में अपनत्व Read More »

गांव बभंडी के यात्रा के बहाने पैतृक गांव श्रीपाल बसंत की यादें

मैं कभी गांव में नहीं रहा। मेरा घर छपरा शहर में है और बचपन में जब कभी गांव (श्रीपाल बसंत) गया तो रात में लौट आया। वह भी तब जब स्टेशन, अवतारनगर कई कोस दूर था और पैदल चलने के अलावा कोई साधन नहीं होता था। आने-जाने के लिए ट्रेन का कोई विकल्प नहीं था। …

गांव बभंडी के यात्रा के बहाने पैतृक गांव श्रीपाल बसंत की यादें Read More »

बिहार पंचायत चुनाव..प​हले चरण के मतदान के लिए नामांकन की प्रक्रिया गुरूवार से शुरू

पंचायत खबर टोली पटना: बिहार पंचायत चुनाव में 11 चरणों में संपन्न होने हैं। 24 सितंबर को पहले फेज की वोटिंग होगी, वहीं 12 दिसंबर को आखिरी चरण का मतदान होगा। 24 सितंबर को पहले फेज के होने वाले मतदान के लिए नामांकन की प्रक्रिया गुरूवार यानी कल से शुरू हो जाएगी। 08 सितंबर तक …

बिहार पंचायत चुनाव..प​हले चरण के मतदान के लिए नामांकन की प्रक्रिया गुरूवार से शुरू Read More »

और अब आप पहनिए खादी के जूते…

पंचायत खबर डेस्क नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है कि देश का हर युवा देश की माटी से जुड़े और स्वावलंबी बने। इसी योजना के तहत उन्होंने खादी को बढ़ावा देने की बात कही है। जिससे खादी घर घर तक पहुंचे, लोगों को रोजगार मिले. लोग अपना काम शुरू कर सकें. प्रधानमंत्री की …

और अब आप पहनिए खादी के जूते… Read More »