distress migration

मनरेगा को पुनर्जीवित किए जाने के साथ ही व्यापक सुधार की है दरकार

प्रो डॉ अश्विनी कुमार ‘कांग्रेस सरकार की विफलता का तथाकथित जीवित स्मारक’ बताया जाने वाला प्रतीक कोरोना संक्रमण के दौरान हुए राष्ट्रीय लॉक डाउन से प्रभावित लाखों प्रवासियों की दुर्दशा को कम करने और इससे प्रभावित ग्रामीण अर्थव्यवस्था को नया आयाम देने के लिहाज से एक बार फिर अपने उदात्त स्वरूप में बिना किसी भेदभाव …

मनरेगा को पुनर्जीवित किए जाने के साथ ही व्यापक सुधार की है दरकार Read More »

श्रमिकों की मदद के साथ बिहार के नवनिर्माण के लिए सार्थक पहल कर रहे हैं प्रवासी बिहारी

मंगरूआ नयी दिल्ली: कोरोना महामारी के इस दौर में एक तरफ जहां देश के अन्य राज्यों से प्रवासी बिहारियों का तमाम तरह की दु​श्वारियां उठाते हुए बिहार लौटने का सिलसिला जारी है, और इस क्रम में जिस तरह की तस्वीरें मीडिया,सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों के जरिए आ रही हैं वो निश्चित रूप से बिहार …

श्रमिकों की मदद के साथ बिहार के नवनिर्माण के लिए सार्थक पहल कर रहे हैं प्रवासी बिहारी Read More »

शहर में टूटे सपनों को गांव में पूरा करने की होगी जद्दोजहद

दीपक कुमार आजी से सुनते थे कि फलाना इतने कोस पैदल चलकर अपने बेटी के यहां जाते थे तो चिलना उतने कोस चलकर पहुनाई करते थे। यह बात हमारे लिए किसी ब्रेकिग न्यूज़ से कम न थी। जब समझने-बूझने लायक हुये तो गांव में साइकिल की पहुंच हो चुकी थी, कुछ एक घर में मोटरसाइकिल …

शहर में टूटे सपनों को गांव में पूरा करने की होगी जद्दोजहद Read More »

गांव में रहना हुआ आसान, रोजगार सृजन की है दरकार

प्रो डॉ प्रदीप कांत चौधरी कोरोना महामारी के दौरान गांव में हूं और यहां के जीवन की सहूलियतों से अभिभूत हूं। इस महामारी के बाद दुनिया में क्या बदलाव आएंगे, इस बात पर बड़े बड़े विद्वान घनघोर चर्चा कर रहें हैं। इस चर्चा में एक तत्व यह भी है कि शायद प्रकृतिक वातावरण के प्रति …

गांव में रहना हुआ आसान, रोजगार सृजन की है दरकार Read More »

…वर्क फ्रॉम गांव की तरफ बढ़ने की है दरकार

धर्मेंद्र कुमार   कोविद-19 जीवाणु के प्रकोप ने अफरा-तफरी मचा रखी है। लॉक डाउन के कारण सब कुछ ठहर सा गया है। कल कारखाने बंद पड़े है। बाज़ार सुनसान हैं। सड़के सुनी है और डरावनी दिखती है। शहर भूतहा प्रतीत होता हैं लेकिन प्रवासी मजदूर सड़को पर निकल आया है। बोरिया बिस्तर व बच्चो को …

…वर्क फ्रॉम गांव की तरफ बढ़ने की है दरकार Read More »

प्रवासी मज़दूरों की वापसी-नये अवसरों की दस्तक

अनिन्दो बनर्जी निदेशक, कार्यक्रम प्रभाग, प्रैक्सिस देश में लाॅकडाउन लागू किये जाने के बाद से बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों में काम करने वाले प्रवासी मज़दूरों की अपने गांव वापसी हो रही है। ऐसा माना जा रहा है कि यदि निकट भविष्य में महामारी से निपटने में ठोस कामयाबी नहीं मिली तो अर्थव्यवस्था के बहुत …

प्रवासी मज़दूरों की वापसी-नये अवसरों की दस्तक Read More »