पंचायत चुनाव… प्रतिनिधियों को जागरूक करने के लिए आयोजित किया गया बिहार ग्राम संसद

अमरनाथ झा
पटना: बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। अलग-अलग स्तर पर जनता को लुभाने,पंचायत प्रतिनिधियों को उनके अधि​कार के विषय में सजग करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए बिहार ग्राम संसद का आयोजन हुआ।
बिहार में मुखिया, सरपंच, जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्य समेत 6 पदों के लिए एकसाथ चुनाव होने वाला है। लेकिन चुनाव की तिथी को लेकर पेंच फंसा हुआ है। ईवीएम की उपलब्धता और अनुपलब्धता के भंवर में फंसे पंचायत चुनाव पर विद्यमान असमंजस की ​स्थिती के बीच गैर दलीय आधार पर अब तक लड़े जा रहे पंचायत चुनावों में राजनीतिक दलों ने अपने नेताओं के जरिए दावेदारी के लिए पूरी तरह से कमर कस ली है। कुछ ऐसी ही कवायद गत शनिवार बिहार की राजधानी पटना के होटल मौर्या में देखने को मिली जब भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय मयूख की देखरेख में नागर संगठन अर्बन पॉलिटिक्स संस्था के द्वारा बिहार ग्राम संसद का आयोजन किया गया।
केंद्रीय जल शक्ति मंत्री शेखावत पहुंचे पटना
बिहार ग्राम संसद के आयोजन में कई केंद्रीय मंत्री, राज्य मंत्री और भाजपा व जदयू के सांसद विधायक पटना पहुंचे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथी के रूप में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस मौके पर शेखावत ने कहा कि इस अवसर पर अपने संबोधन में मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि गांव देश की आत्मा है और ग्राम संसद यानी ग्राम पंचायत लोकतंत्र की सबसे मजबूत जड़ है। उन्होंने कहा कि गांव को सशक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार एवं बिहार सरकार पूरी तरह से  संकल्पित है। इस अवसर पर अपने संबोधन में  केंद्रीय पशु व मत्स्य मंत्री गिरिराज सिंह  ने कहा कि गांव के विकास को एनडीए की सरकार ने प्राथमिकता दी है। गांव तक विकास की रोशनी को पहुंचाया गया है।

बिहार ग्राम संसद कार्यक्रम के संयोजक व विधान पार्षद संजय मयूख ने कहा कि गांव के विकास के लिए केंद्र व राज्य सरकार के द्वारा किए जा रहे कार्यों का फल अब दिखने लगा है। गांव में सरकारी योजनाएं समय से पहुंच रही है। बिहार में सात निश्चय के माध्यम से सड़क, बिजली, पानी, वृक्षारोपण, शौचालय जैसे अभियानों को मजबूत किया गया है। उन्होंने कहा कि इस ग्राम संसद के माध्यम से एक पहल की शुरुआत जा रही है जिसके माध्यम से जन जागृति अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार द्वारा पंचायत प्रतिनिधियों को मजबूत करने के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की।
बिहार ग्राम संसद कार्यक्रम के आयोजन के पहले और भविष्य की रूपरेखा की चर्चा करते हुए डॉ मयूख ने कहा कि संस्था द्वारा लगातार पंचायती राज व्यवस्था को सुदृढ़ करने की बात होगी चिंतन होगा साथ ही साथ गांव ग्राम स्वराज की अवधारणा को मजबूत करने वाले प्रतिनिधियों को सम्मानित भी किया जाएगा उन्होंने बताया कि बिहार में पंचायती राज व्यवस्था का चुनाव होना है इस चुनाव को लेकर लोगों में कुछ ज्यादा ही उत्साह है उनकी पूरी टीम ग्रास रूट लेवल तक पंचायत प्रतिनिधियों को जागरूक करना चाहती हैं उन्हें बताना चाहती है कि उनका अधिकार क्या है और वह गांव के विकास के लिए क्या कुछ कर सकते हैं जो लोग बेहतर काम कर रहे हैं उन्हें रोल मॉडल के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा।
अर्बन पॉलिटिक्स द्वारा आयोजित बिहार ग्राम संसद के विषय में विधान पार्षद संजय प्रकाश मयूख ने कहा कि यह एक अनूठी पहल है इस पहल को गांव-गांव तक लेकर जाना है ग्राम स्वराज की अवधारणा को मजबूत करना है पंचायत प्रतिनिधियों को जागरुक करना है केंद्र व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं को भी गांव-गांव तक पहुंचाना इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है।

इन नेताओं ने रखी अपनी बात
बिहार ग्राम संसद में बिहार सरकार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन, भवन मंत्री अशोक चौधरी, पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी, जल संसाधन व सूचना जनसंपर्क मंत्री संजय कुमार झा, विधान पार्षद सच्चिदानंद राय, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गुरु प्रकाश, तिरुपति शुगर मिल के एमडी दीपक यादव, ब्रैवो फार्मा के सीएमडी राकेश पांडे, समाजसेवी दीपक ठाकुर, श्री सीमेंट के एमडी एचएम बांगर, किशोर कुमार झा, ऋषि , भक्ति शर्मा, स्वेता शालिनी समेत पूरे देश से चुनिंदा सौ मुखिया शामिल हुए।
बिहार ग्राम संसद के आयोजन कर्ताओं में शामिल अर्बन पॉलिटिक्स के संस्थापक बृजेश शर्मा ने कहा कि उनकी टीम बिहार के प्रत्येक पंचायत तक नेटवर्क बना चुकी है वहां के पंचायत प्रतिनिधियों को जागरूक किया जा रहा है उन्हें उनके अधिकारों के बारे में बताया जा रहा है उन्हें बताया जा रहा है कि गांव का एक मुखिया गांव के विकास के लिए क्या कुछ कर सकता है साथ ही साथ जो नए लोग पंचायत चुनाव में चुनाव लड़ना चाहते हैं उन्हें भी जागरूक किया जा रहा है ग्रास रूट लेवल पर विकास की अवधारणा कैसे मजबूत हो। इस मौके पर केशव शर्मा तथा अरनव मीडिया के अनूप नारायण सिंह की सराहनीय उपस्थिति रही।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *