मिट्टी की खुशबू

देश के लोक विश्वविद्यालय हैं भिखारी ठाकुर

सदानंद शाही प्रोफेसर, काशी हिंदू विश्वविद्यालय यह भिखारी ठाकुर ही थे कि अपने नाटकों की लोकप्रियता दर्शकों की उपस्थिति से तय करते थे। भिखारी ठाकुर के स्त्री-पात्र सिर्फ विलाप करना ही नहीं जानते हैं। वे अपने हक के लिए लड़ते और तर्क भी करते हैं। लोक आज अपने ढंग से, अपने कलाकार भिखारी ठाकुर को …

देश के लोक विश्वविद्यालय हैं भिखारी ठाकुर Read More »

वर्तमान भारत के निर्माण में विश्वनाथ राय का अहम योगदान : प्रणव मुखर्जी

संतोष कुमार सिंह याद किए गये विश्वनाथ राय..  स्वतंत्रता सेनानी विश्वनाथ राय का राष्ट्र के निर्माण में संसदीय योगदान नामक पुस्तक का लोकार्पण प्रणव मुखर्जी द्वारा किया गया। यह पुस्तक विश्वनाथ राय के पुत्र कर्नल प्रमोद शर्मा द्वारा लिखी गयी है। पुस्तक में विश्वनाथ राय के 25 वर्ष के संसदीय जीवन के दौरान प्रमुखता से …

वर्तमान भारत के निर्माण में विश्वनाथ राय का अहम योगदान : प्रणव मुखर्जी Read More »

डॉ शम्भुनाथ का सपना तब पूरा होगा ज​ब साहित्य की अधूरी क्रांति पूरी हो: रामबहादुर राय

डॉ. शम्भुनाथ सिंह की जन्मशताब्दी पर साहित्यकारों और बुद्धिजीवियों की भावभीनी श्रदांजलि संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली: विगत रविवार राजधानी के हिंदी भवन में नवगीत के पितृपुरूष माने जाने वाले डॉ  सिंह की शताब्दी वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए  इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय …

डॉ शम्भुनाथ का सपना तब पूरा होगा ज​ब साहित्य की अधूरी क्रांति पूरी हो: रामबहादुर राय Read More »

बिदेसिया राम कथा से होड़ लेती हुई कृति

सदानन्द शाही,निदेशक भोजपुरी अध्ययन केंद्र,बीएचयू भिखारी ठाकुर की रचना ‘बिदेसिया’ 1917 में हुई थी। सौ साल होने जा रहे हैं इस महान कृति के। आजकल कृतियों के महत्व का अन्दाजा इस बात से भी लगाया जाता है कि उसके कितने संस्करण हुए। इस पैमाने पर देखेंगे तो एकदम से अलग दृश्य सामने होगा। बिदेसिया का …

बिदेसिया राम कथा से होड़ लेती हुई कृति Read More »

हंसि हंसि पनवा खिअवले बेईमनवा !

ध्रुव गुप्त भोजपुरी की जमीन, उसकी सांस्कृतिक और सामाजिक परंपराओं तथा राग-विराग की जैसी समझ स्व. भिखारी ठाकुर को थी, उतनी किसी अन्य भोजपुरी कवि-लेखक में दुर्लभ है। वे भोजपुरी माटी और अस्मिता के प्रतीक थे। बहुआयामी प्रतिभा के धनी भिखारी ठाकुर एक साथ कवि, गीतकार, नाटककार, निर्देशक, लोक संगीतकार और अभिनेता थे। वे भोजपुरी …

हंसि हंसि पनवा खिअवले बेईमनवा ! Read More »

गाँव की माटी की सोंधी महक ​विवेकी राय की ख़ास पहचान

विजय शंकर सिंह डॉ विवेकी राय नहीं रहे । 93 वर्ष की आयु मैं उन्होंने संसार को अलविदा कहा । अंतिम समय उनका वाराणसी में व्यतीत हुआ । अंतिम सांस भी उन्होंने काशी में ही ली । मूल रूप से वे बलिया जिलें के भरौली गाँव के रहने वाले थे । कुछ अख़बार उन्हें हिंदी …

गाँव की माटी की सोंधी महक ​विवेकी राय की ख़ास पहचान Read More »

सरकार ने मुंह मोड़ा, सामाजिक प्रयास से संवरेगा ढेकुलियाघाट श्मशान

पंचायत खबर टोली मऊ : पवित्र तमसा के पावन तट पर स्थित ढेकुलियाघाट श्मशान को नवजीवन की उम्मीद बंधी है। लेकिन यह कार्य सरकार के भरोसे नहीं बल्कि समाजसेवी संगठनों और कुछ निजी प्रयासों के जरिए हो रहा है।  अपने जीर्णोद्धार की बाट जोह रहे इस पवित्र श्मशानघाट की सुधि लेने कोई सरकारी महकमा नहीं …

सरकार ने मुंह मोड़ा, सामाजिक प्रयास से संवरेगा ढेकुलियाघाट श्मशान Read More »

राजीव गांधी मानव सेवा पुरस्कार से नवाजे गए देवेश,राष्ट्रपति ने किया सम्मानित

संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली: आज देशभक्ति की बातें बहुत हो रही है। लेकिन देवेश उन लोगों को सम्हाल रहे हैं जिन पर आगे चलकर देश को संभालने की जिम्मेवारी आएगी। जी हां, ठीक उस देशभक्ति गीत की तरह..मेरे देश को रखना मेरे बच्चों सम्हाल के। जरूरत मंद बच्चो की सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय …

राजीव गांधी मानव सेवा पुरस्कार से नवाजे गए देवेश,राष्ट्रपति ने किया सम्मानित Read More »

ट्रेड फेयर में याद किये जायेंगे बिरसा मुंडा.. झारखंड है मेले का प्रमुख सहभागी

संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली: प्रगती मैदान गुलजार है। सज—धज कर ट्रेड फेयर को तैयार है। हालांकि देश भर में नोटबंदी से अफरा-तफरी मची हुई है। बावजूद इसके हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में 36वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का शुभारंभ होने जा रहा है। …

ट्रेड फेयर में याद किये जायेंगे बिरसा मुंडा.. झारखंड है मेले का प्रमुख सहभागी Read More »