पूर्वी चंपारण जिला का बनकटवा प्रखंड शत-प्रतिशत टीका वाला राज्य का पहला प्रखंड, पीपराकोठी को जल्द हासिल होगा यह मुकाम

संतोष कुमार सिंह

मोतिहारी:बिहार में कोरोना की रफ्तार थमी हुई है, लेकिन खतरा टला नहीं है। इस बीच टीकाकरण की रफ्तार कई कारणों से थोड़ी थम सी गई है। इनमें कई ईलाकों में बारिश और बाढ़ भी एक महत्वपूर्ण कारण है, और कहीं कहीं टीके का अभाव भी देखा जा रहा है। बावजूद इसके पूर्वी चंपारण जिला का बनकटवा प्रखंड शत-प्रतिशत टीका वाला राज्य का पहला प्रखंड बन गया है। यहां 18 वर्ष से अधिक आयु वाले सभी लोगों ने कोरोना का टीका करण हो चुका है।
स्वास्थ्य मंत्री ने दी बधाई
पूर्वी चंपारण का बनकटवा प्रखंड में शत-प्रतिशत टीकाकरण की जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने बताया कि यह बिहार का पहला प्रखंड है जहां 100 प्रतिशत टीकाकरण हो चुका है। पूर्वी चंपारण का बनकटवा प्रखंड राज्यवासियों को प्रेरित करने वाला प्रखंड बन चुका है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में कई और ऐसे प्रखंड होंगे जहां 100 प्रतिशत टीकाकरण हो चुका होगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अगले 6 महीने में 6 करोड़ लोगों को टीकाकृत कर अपने वैक्सीनेशन महाअभियान के लक्ष्य को पूरा करेगी।


यूं हासिल हुई ये सफलता
पिछले दिनों जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने वैक्सीनेशन कार्यों को लेकर समीक्षा बैठक की थी। जहां डीएम ने निर्देश दिया था कि 21 जून और 22 जून को प्रखंड बनकटवा में विशेष अभियान चलाया जाए, ताकि प्रखंड को संपूर्ण टीकाकरण वाला प्रखण्ड घोषित किया जाए। आखिरकार प्रशासन की पहल रंग लाई और शत प्रतिशत टीकाकरण पूरा हो सका
अन्य प्रखंडों में भी तेजी से चल रहा है टीकाकरण
जिले के सभी प्रखंडों में कोविड वैक्सीनेशन का काम जोरो पर है। पीपराकोठी प्रखंड में भी अभियान को तेज कर दिया गया है। तय प्राथमिकता के अनुसार बनकटवा के बाद शत-प्रतिशत टीकाकरण वाला प्रखंड पीपराकोठी हो सकता है। सिविल सर्जन डॉ. सिंह के अनुसार इस प्रखंड में तय कार्यक्रम के अनुसार टीकाकरण अभियान को गति दी जा रही है। जिले के सभी 27 प्रखंडों में टीकाकरण को लक्ष्य तक पहुंचाने के लिए विभिन्न स्तरों पर प्रयास किए जा रहे हैं।  ..पूर्वी चंपारण जिला का बनकटवा प्रखंड
सात लाख लोगों को लग चुकी वैक्सीन

जिले में निर्धारित सेशन साइट पर लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा रही है। स्टेटिक केंद्र के अलावा भ्रमणशील टीम द्वारा भी टीकाकरण किया जा रहा है। इसके लिए जिले में टीकाकरण एक्सप्रेस भी चलाया जा रहा है। ऐसे वाहन पर वैक्सीन के साथ मेडिकल टीम भी होती है, जो गांव-टोला में जाकर टीका लगाने के साथ ही कोरोना से बचाव के अन्य उपायों की जानकारी देती है। अब तक जिले में करीब सात लाख लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।


क्या कहते हैं स्वास्थ्य सचिव
बिहार में 7 करोड़ 22 लाख लोगों का किया जाना है वैक्सीनेशन
बिहार स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत का कहना है कि वैक्सीनेशन के मामले में बिहार तेजी से काम कर रहा है। बिहार में कुल 7 करोड़ 22 लाख लोगों का टीकाकरण किया जाना है। जिनमें से अब तक 1 करोड़ 55 लाख लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इसमें 1 करोड़ 35 लाख सिंगल डोज और 20 लाख डबल डोज शामिल है। प्रत्यय अमृत ने यह भी बताया कि क्योंकि बिहार में फ्री वैक्सीनेशन का कार्य हो रहा है इसलिए निजी अस्पतालों में कम ही लोग टीका लगवाने पहुंच रहे हैं। उन्होंने कहा कि निजी अस्पताल में लोगों को मन मुताबिक वैक्सीन चुनने का मौका मिलेगा। ..पूर्वी चंपारण जिला का बनकटवा प्रखंड
अभी लंबा है सफर
ये बात सही है कि बिहार का टीकाकरण का काम चल रहा है। निजी अस्पतालों में भी टीके लगाये जा रहे हैं। बावजूद इसके अभी लंबी दूरी तय करनी है। जिस तरह से टीकाकरण अभियान में पंचायतों ने बढ़ चढ़ कर भागीदारी की है इससे अभियान को काफी गती मिली। लेकिन टीकाकरण की आर्पूती और बारिस और बाढ़ से आसन्न चुनौतियों के मद्देनजर टीकाकरण की रफ्तार धीमी रह रही है। …पूर्वी चंपारण जिला का बनकटवा प्रखंड

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *