पंचायती राज मॉडल

प्रणव दा, तुस्सी ग्रेट हो, गोद लिए गांवों की चमका रहे किस्मत

पंचायत खबर टोली चंडीगढ़: प्रणब दा, तुस्सी ग्रेट हो! यह हम नहीं उन गांवों के लोग कह रहे हैं जिनकी किस्‍मत देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी चमका रहे हैं। प्रणब मुखर्जी ने विकास के दौड़ में पीछे रह गए गांवों को गोद लिया था। वह इन गांवों के विकास को लेकर खासे उत्साहित हैं। …

प्रणव दा, तुस्सी ग्रेट हो, गोद लिए गांवों की चमका रहे किस्मत Read More »

देश का पहला गाँव, जिसके हर घर में सोलर इंडक्शन पर पकता है खाना

मंगरूआ मध्यप्रदेश के बैतूल जिले का एक छोटा-सा अनुसूचित जनजाति (शेड्यूल ट्राइब) बाहुल्य गाँव है- बाचा। आजकल यह छोटा-सा गाँव अपने बड़े नवाचारों के कारण चर्चा में बना हुआ है। वर्ष 2016-17 से बाचा ने बदलाव की करवट लेनी शुरू की। आज बाचा न केवल मध्यप्रदेश बल्कि भारत के सभी गाँवों के लिए प्रेरणा स्रोत …

देश का पहला गाँव, जिसके हर घर में सोलर इंडक्शन पर पकता है खाना Read More »

भले रुपये में 15 पैसा पहुंचा हो गांव, पंचायतों में आए संस्थागत बदलाव के अगुआ थे राजीव

मंगरूआ नई दिल्ली: देश के मौजूदा प्रधानमंत्री देश के एक पूर्व प्रधानमंत्री के उस बयान की गाहे बेगाहे चर्चा करते रहते हैं जिसमें उन्होंने कहा था कि वे दिल्ली से एक रुपया भेजते हैं, तो गांव में 15 पैसे पहुंचता है। वे कभी ये बातें चुनावी सभा में कहते हैं तो कभी विपक्षी दल के …

भले रुपये में 15 पैसा पहुंचा हो गांव, पंचायतों में आए संस्थागत बदलाव के अगुआ थे राजीव Read More »

अधिकारों में कटौती से नाराज मुखिया संघ ने घेरा नीतीश का काफिला

अमरनाथ झा पटना: मुखिया जी के अधिकार में कटौती को लेकर सरकार और मुखिया संघ में ठन गयी है। एक तरफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुखिया के अधिकार में कटौती कर वार्ड सदस्यों को मजबूत कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ मुखिया संघ अपने अधिकार छोड़ने को तैयार नहीं है। बुधवार को सरकार ने यह फैसला …

अधिकारों में कटौती से नाराज मुखिया संघ ने घेरा नीतीश का काफिला Read More »