बिहार पंचायत चुनाव के लिए पहली बार बना कॉल सेंटर

बिहार पंचायत चुनाव को लेकर जैसे—जैसे समय नजदीक आता जा रहा है, उसको देखते हुए राज्य चुनाव आयोग ने भी अपनी कमर कसना शुरू कर दिया है। राज्य में पहली बार पंचायत चुनावों को लेकर कॉल सेंटर स्थापित किया गया है।

इस कॉल सेंटर के माध्यम से मतदाता वार्ड, पंचायत, पंचायत समिति और जिला पर्षद के संबंध में किसी प्रकार की शिकायत को टॉल फ्री नंबर के जरिए सीधे आयोग के पास पहुंचा सकते हैं। मतदाताओं को प्रखंड स्तर, अनुमंडल स्तर और जिला स्तर पर कोई अधिकारी यदि शिकायतों का निबटारा नहीं करता है या उसमें विलंब होता है, तो वह सीधे आयोग के टॉल फ्री नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है।

इसके लिए आयोग ने टॉल फ्री नंबर 18003457243 जारी किया है। बता दें कि नगर निकायों के गठन के पंचायत चुनाव की तारीखों में पेच फंसा है। अगर पंचायत चुनाव से पहले नए नगर निकायों के गठन को मंजूरी मिल जाती है और अधिसूचना जारी हो जाती है तो बहुत सारे गांव नए नगर पंचायत में शामिल हो जाएंगे। ये भी संभव है कि कुछ पंचायतों का अस्तित्व ही समाप्त हो जाये। इधर, मार्च में अधिसूचना जारी होने और अप्रैल-मई में पंचायत चुनाव होने की संभावना जताई जा रही है। पंचायत चुनाव ईवीएम से कराया जाएगा।

फिलहाल आयोग द्वारा पंचायत चुनाव को लेकर दो प्रकार की गतिविधियां पूरे राज्य में चलायी जा रही हैं। इनमें मतदाता सूची और बूथों के गठन की तैयारी है। टॉल फ्री नंबर जारी होने के बाद न सिर्फ मतदाताओं को, बल्कि पंचायत चुनाव लड़नेवाले करीब आठ लाख से अधिक प्रत्याशियों को भी अपनी बात सीधे आयोग को पहुंचाने का मौका मिलेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *