rashmi singh

मेरे व्यवहारिक जीवन की पाठशाला रहा है गांव

डॉ रश्मि सिंह (आईएएस) मेरा गांव भवानीपुर औरंगाबाद जिले में देव प्रखंड में है। देव कई कारणों से प्रसिध्द है। उसमें ऐतिहासिक सूर्य मंदिर तो एक कारण है ही, मेरे बाबा और पिता का भी इस प्रसिध्दि में काफी योगदान रहा है। मैंने अपने बाबा कामता प्रसाद सिंह ‘काम’ को देखा भले नहीं है, लेकिन …

मेरे व्यवहारिक जीवन की पाठशाला रहा है गांव Read More »

आत्मनिर्भर भारत के प्रधानमंत्री के संकल्प से गांव की आत्मनिर्भरता की राह तलाशता ‘तीसरी सरकार अभियान’

मंगरूआ दिल्ली: ​कोरोना महामारी के दौरान गांव की आत्मनिर्भरता का सवाल बहस के केंद्र में है। कई स्तर पर इस विषय पर संवाद की प्रक्रिया चल रही है। इस बहस को नया आयाम तब मिला जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से कहा कि लोकल सिर्फ जरूरत नहीं, हम सभी की जिम्मेदारी है। …

आत्मनिर्भर भारत के प्रधानमंत्री के संकल्प से गांव की आत्मनिर्भरता की राह तलाशता ‘तीसरी सरकार अभियान’ Read More »

घर गांव देहात…

कामता प्रसाद सिंह ‘काम’ लेकिन एक बात थी, कृषि विभाग का नमूना न लेकर भी लोग खाने पीने से खुशहाल थे, गाय भैंसों की भरमार थी जिनका शुद्ध दूध हम पीते थे। बहेलिय बझा—बझाकर बटेर, बगेरी हुदहदु, चाहा इत्यादी लाता था मिन सिकार अपने बारूद वाले बंदूक से हरियल, कबूतर, पंडुक आदि मारकर लाता था …

घर गांव देहात… Read More »

आपके गाँव सेल्फी लेने पहुंचेंगी…रश्मि सिंह, वर्तिका नंदा

अपराजिता संतोष आजकल सेल्फी का चलन है। कभी अच्छे कारणों से तो कभी बुरे कारणों से सेल्फी चर्चा में होती ही है। लेकिन जब कोई पुरे गाँव की सेल्फी ले तो आप क्या कहेंगे? इसी इरादे से निकली हैं वर्तिका नंदा और रश्मि सिंह। वर्तिका नंदा प्रयोग धर्मी पत्रकार और महिला कार्यकर्ता और रश्मि सिंह जानी …

आपके गाँव सेल्फी लेने पहुंचेंगी…रश्मि सिंह, वर्तिका नंदा Read More »