पिपलांत्री गांव में बेटियों के जन्म पर लगाए जाते हैं पौधे…

मोईनुद्दीन चिश्ती पिपलांत्री, राजसमंद: बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सिर्फ नारा न रहे जमीनी ह​किकत बने इसके लिए पिपलांत्री के  ग्रामीणों ने एक राह दिखाई है। लगातार गिरते लिंगानुपात को लेकर चल रहे तमाम समाजशास्त्रीय विश्लेषण और राजनी​तिक चेतना का ध्वजवाहक बना पिपलांत्री के ग्रामीण पर्यावरण और मानव के बीच के अन्योन्नाश्रय संबंध को पुख्ता करते …

पिपलांत्री गांव में बेटियों के जन्म पर लगाए जाते हैं पौधे… Read More »