कोसी के ग्रामीण जनजीवन को रेखांकित करती है ‘रेडियो कोसी’

पुष्यमित्र कोसी की एक ही कहानी है, जो रेणु जी ने परती परिकथा में लिखी, नागार्जुन ने वरुण के बेटे उपन्यास में लिखी, मायानंद मिश्र ने माटी के लोग सोने की नैया में लिखी, दिनेश मिश्र जी ने दुई पाटन के लोग में लिखी और आज मैंने उसे लिखने की कोशिश की है। इनमें से …

कोसी के ग्रामीण जनजीवन को रेखांकित करती है ‘रेडियो कोसी’ Read More »