गांव हो गए सरकारी!

कमलेश कुमार सिंह हाजीपुर: हाल ही में गांव जाना हुआ। पिताजी भी साथ थे। बटाइदार से गेंहू लाना था। बटाइदार पारस राय पिताजी को गेंहू का हिसाब किताब बता रहा था। इसी बीच एक बुजुर्ग वहां से गुजरते हुए अचानक रुक गये। उन्होंने मुझे टोकते हुए पूछा कहां से आये हो, किसके लड़के हो। तभी …

गांव हो गए सरकारी! Read More »