फ़र्स्ट क्लास एमए पर रिक्शा चलाने की मजबूरी

रवि प्रकाश झारखंड में जनजातीय भाषाओं का बुरा हाल है. रांची समेत राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में जनजातीय भाषा विभाग में पार्याप्त शिक्षक नहीं हैं. इस कारण छात्रों की रुचि घट रही है. रांची विश्वविद्यालय में इस विभाग के पहले बैच के छात्र एडवर्ड कुजूर पिछले कई सालों से रिक्शा चलाते हैं.उन्होंने 1984 में कुड़ुख …

फ़र्स्ट क्लास एमए पर रिक्शा चलाने की मजबूरी Read More »