महिला वोटर की लाइन – जिद, उम्मीद और पलायन का दर्द

अनुशक्ति सिंह रुनिया माय कहाँ जा रही हो? “भोट देने जा रहे हैं दीदी…” बनगामा वाली भी भोट देने जा रही है. सुदमिया की चाची और गोनर की कनिया भी साथ में आ रही है… गज़ब. पूरा महिला समुदाय उमड़ा हुआ है. हो भी काहे नहीं… इहाँ मुखिया के चुनाव में लोग जोर लगा देते …

महिला वोटर की लाइन – जिद, उम्मीद और पलायन का दर्द Read More »