‘लाखों में एक’ कार्यक्रम- “प्रथम” का ‘पढ़ता-लिखता गांव’

संतोष कुमार सिंह देश के प्राथमिक स्कूल से लेकर उच्च विद्यालयों तक दाखिले के स्तर पर सुधार हुआ है। बच्चे अब पहले की तुलना में स्कूल ज्यादा जाते हैं। आरटीई लागू होने के बाद बुनियादी सुविधाओं और संस्थागत ढांचे का भी विकास हुआ है। लेकिन इसका मतलब यह कदापि नहीं है कि शिक्षण के स्तर, …

‘लाखों में एक’ कार्यक्रम- “प्रथम” का ‘पढ़ता-लिखता गांव’ Read More »