जीवन में अपनायें योग, काया रहेगा निरोग

ठाकुर उमेशानंद योगी   योग है जीवन की धारा , जिसने जाना, उसने माना  सब का जीवन  इसने तारा , रोगों से हों मुक्त मानव जीवन हमारा योग एक ऐसी पद्धति या चिकित्सा पद्धति है जो व्यक्ति के शरीर, मन और आत्मा को एकीकृत करता है। मन को शांत करता है। व्यक्ति को शारीरिक और आध्यात्मिक रूप …

जीवन में अपनायें योग, काया रहेगा निरोग Read More »