गांव की सामुहिकता विलुप्त हो रही है

डाॅ अभय सागर मिंज परिवर्तन एक सतत प्रक्रिया है और यह हमेशा से इस जीवन का सत्य और तथ्य है। जब सारे विश्व में पश्चिमी जीवन का प्रभाव दिखता है तो आदिवासी समाज भी इस से अछूता नहीं है। गांव में हुए परिवर्तन पर कुछ विचार साझा करने में सालों पहले से अंतर्मन में जो …

गांव की सामुहिकता विलुप्त हो रही है Read More »