गांव…जो शहर से कोसों दूर है

अनुपम कुमार हर दूसरे घर से एक के बाद एक-एक कर लोग बाहर निकलते गए। कोई गया पहुंचा तो कोई पटना, कोई दिल्ली पहुंचा तो कोई कलकत्ता। किसी को मुम्बई जाने का रास्ता दिखा तो किसी को गुजरात। देखते ही देखते बीसेक साल में गांव खाली हो गया। कई घरों में ताले लटक गए। पहले …

गांव…जो शहर से कोसों दूर है Read More »