तब सिर्फ किताबों में मिला करेगी गौरैया

ज्ञानेंद्र रावत,पर्यावरण कार्यकर्ता कुछ निजी आकलनों के मुताबिक, यूरोप में कुछ वर्षो में गौरैया की तादाद में करीब 85 प्रतिशत की कमी आई है। ‘हेल्प हाउस स्पैरो’ नाम से चल रहे वैश्विक अभियान में हमारी सरकार ने कोई खास पहल नहीं की है। मुङो आज से पांच दशक पहले का समय याद आता है, जब …

तब सिर्फ किताबों में मिला करेगी गौरैया Read More »