corporate

समझ रहा है कॉरपोरेट इंडिया…भविष्य गांव का ही है

संकल्प सिन्हा तुलसी दास ने लिखा है धीरज धर्म मित्र अरु नारी। आपद काल परिखिअहिं चारी॥ अर्थात धैर्य, धर्म, मित्र और स्त्री- इन चारों की विपत्ति के समय ही परीक्षा होती है। लेकिन इस कोरोना रूपी महामारी के इस दौर में जब पूरा देश लॉक डाउन में था तो इन चारों की तो परीक्षा हो …

समझ रहा है कॉरपोरेट इंडिया…भविष्य गांव का ही है Read More »

टाटा..बिरला के सहयोग निर्मल होगी गंगा..नमामी गंगे से जुड़ेगे कॉरपोरेट

संतोष कुमार सिंह नयी दिल्ली: गंगा की साफ सफाई पर तमाम तरह की घोषणाएं सरकार के स्तर पर होती हैं। दावा किया जाता है कि गंगा अब निर्मल होगी,तब निर्मल होगी लेकिन जिनकी जीवनधारा गंगा के साथ—साथ आगे बढ़ती है। गंगा से प्रभावित होती है,वे सरकार के प्रयासों को नाकाफी मानते हुए अक्सर ये सवाल …

टाटा..बिरला के सहयोग निर्मल होगी गंगा..नमामी गंगे से जुड़ेगे कॉरपोरेट Read More »