पंचायत खबर

हमारे बारे में

पंचायत खबर गांव और शहर के बीच एक पुल है। जहां ग्राम संसद की आवाज भी होगी और संसद में गूंजने वाले गांव के मुद्दे भी। जिला पंचायत की खबरें भी होंगी और विधानसभा में उठने वाले गांव के मुद्दे भी। प्रखंड की खबरें भी होंगी और नगर पंचायत के विकास की कहानी भी। सरकार की ग्रामीण विकास और सशक्तीकरण के लिए बनाई गई योजनाओं के दावों और उनकी हकीकत के बीच के अंतर को उजागर करती खास रपट भी। गांव की तस्वीर बदलने वाली प्रत्येक योजना, उनका कार्यान्यवयन, कार्यान्यवयन में उभरती कमियों और शासन द्वारा किये जा रहे प्रयासों पर हमारी पैनी नजर होगी।

यह एक ऐसा मंच जो गांव, खेत—​खलिहान और पंचायतों की आवाज़ बने। हम ​गांव की विरासत भी सहेजेंगे और गांव के ​इतिहास, समृद्ध परंपरा को वर्तमान के आईने में रख आपके समक्ष तुलनात्मक अध्ययन भी प्रस्तुत करेंगे। इसके साथ ही पंचायत स्तर की सरकारें जब अपना कार्यकाल पूरा कर हमारे पास जनादेश के लिए आयेंगी तो हम यह पूछ सकें कि आपने हमारे सवालों को कितना तरजीह दिया, उसके समाधान की दिशा में क्या प्रयास किये जिससे हमारा जीवन स्तर उंचा उठा और भारतीय लोकतंत्र जो कि गांवो में बसता है, वह किस हद तक अपना हक मांग सका। चुने हुए प्रतिनिधि हमारी अपेक्षाओं पर कितने खड़े उतरे। हमारी यह धारणा है कि हर दिल में एक गांव बसता है। इसलिए गांव व पंचायत वहां के जनजीवन से जुडी हर बात, हर तस्वीर, हर खबर पर होगी हमारी नजर। हम अपेक्षा करते हैं कि आप भी इस सफर में सहर्ष सहभागी बनेंगे।