July 14, 2020

फीडिंग इंडिया ने लगाया सड़क पर हैप्पी फ्रीज, मालियों ने रख दिया फूल व माला

आलोक रंजन
वाराणसी: देश भर में कोरोना के दौरान जिस तरह से लॉकडाउन को लागू किया उससे लोगों को परेशानी तो हो ही रही है लेकिन इस बीच समाज का मानवीय चेहरा भी दिखाई दिया है। लोग अपनी परवाह करने के साथ ही समाज में कोई भी भूखा न रहे इस दिशा में एक जुट होकर काम कर रहे हैं। बावजूद इसके कोरोना और भूख साथ—साथ चल रहा है। भूख से मरने वालों का आंकड़ा निकाला जाए तो वह लोगों को झंकझोर सकता है। यही कारण है कि सैकड़ों संस्थाएं गरीबों और जरुरतमंदों के लिए अभियान चलाकर उनका पेट भरने में लगी है। कुछ इसी तरह की पहल वाराणसी में भी होता हुआ दिख रहा है, जहां फीडिंग इंडिया नामक संस्था ने सड़क पर हैप्पी फ्रीज लगाया है। उद्देश्य ये है कि आसपास के लोग अपने घर का बचा हुआ खाना इसमें लाकर रख दें और ज़रूरतमंद अपनी ज़रुरत के हिसाब से इसमें से खाना ले जाकर खा लें। देखा जाए तो संस्था का उद्देश्य काफी पवित्र जान पड़ता है इससे इंसानियत का बोध होता है।
साईं इतना दीजिए जा में कुटुंब समाए,
मैं भी भूखा न रहूं साधु न भूखा जाए।
लेकिन सब लोग एक ही तरह से सोचें यह कोई जरूरी नहीं होता। इस मामले में भी कुछ ऐसा ही दिख रहा है। जिस फ्रीज को इस उद्देश्य से रखा गया था लोग इसमें खाद्य सामाग्री डालेंगे उसका उपयोग स्थानीय फूलमंडी व्यापारी अपने व्यक्तिगत कार्यों के लिए कर रहे हैं।


क्या है मामला
फीडिंग इंडिया नामक संस्था द्वारा महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के गेट नंबर 1 के पास फ्रीज लगाया गया है ताकि लोग अपना बचा हुआ खाना इस फ्रीज में रख दे और यह खाना बरबाद होने के बजाय किसी जरुरतमंद की भूख मिटा सके, पर बगल में ही लगने वाले फूल मंडी के माली इस फ्रीज का इस्तेमाल फूल माला रखने के लिए कर रहे हैं।
स्थानीय निवासी राजीव कुमार ने बताया कि मैं जब सुबह किसी काम से यहां आया तो देखा कि जिस फ्रीज को खाना या पानी रखकर गरीबों के मदद के लिए लगाया गया था। उसमें यहां के माली अपना माला फूल रख रहे हैं। पूरा फ्रीज माला और फूलों से भरा है, जब कि ये फ्रीज भीषण गर्मा में खाना खराब न हो और किसी भूखे का पेट भर जाए इसके लिए लगाया गया है।
साफ है ​इस कोरोना काल में जहां मदद का हाथ सब तरफ से उठ रहा है वहां भी कुछ लोग अपने व्यक्तिगत हित को साध रहे हैं। जिस फ्रीज से कई लोगों को भर पेट भोजन मिल सकता था, उसमें भोजन डालने के बजाया फूल माला रखने के काम में लाया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण धीरे धीरे अपना पांव पसार रहा है। इसी क्रम में शुक्रवार को वाराणसी मे 4 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले है। 4 नए केस मिलने के बाद जनपद में कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की संख्या बढ़कर 166 हो गयी है। आज एक नया हॉटस्पॉट बनाया जा रहा है। इस प्रकार हॉटस्पॉट की संख्या 83 हो गयी है। 24 हॉटस्पॉट ग्रीन जोन में आ चुके है। एक्टिव हॉटस्पॉट की संख्या 58 है। 58 हॉटस्पॉट में से 16 ऑरेंज जोन में है एवं 42 रेड जोन में है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *