November 14, 2019

हरियाणा की उड़ाना ग्राम पंचायत को रोल मॉडल चुना गया

 

लिव माई विलेज नाम से एक देशव्यापी मिशन की शुरूआत हरियाणा के गुरुगाम से हुई। इस कार्यक्रम के पहले चरण में 100 गांव को विकसित करने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें प्रत्येक राज्य से 20 गांवों को चुना जा रहा है, जिसमें हरियाणा, पंजाब, यूपी, राजस्थान, उत्तराखंड शामिल हैं। इसी कड़ी में करनाल जिले के उड़ाना ग्राम पंचायत को हरा भरा बनाने के बाद अब रोल मॉडल के रूप में भी विकसित किया जाएगा, जिसकी शुरुआत प्रदेश के पूर्व डीजीपी एसके दलाल करेंगे। लिव माय विलेज द्वारा प्रदेश के चार गांव रोल मॉडल गांव के रूप में विकसित करने के लिए चुने गए हैं। इसमें करनाल जिले का गांव उड़ाना भी शामिल हैं, जिसकी जानकारी गुरुग्राम के एक रिसोर्ट में आयोजित एक बैठक में प्रदेश के पूर्व डीजीपी एसके दलाल और लिव माय विलेज संस्था के अध्यक्ष महावीर जांगड़ा ने दी। इस अवसर पर मिस वर्ल्ड एशिया 2014 कोयल राणा ने बतौर मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की।
इस मिशन का उदेश्य गांव में युवाओं के साथ मिलकर सरपंच सेना का गठन, जिसमें पानी बचाने के लिए जल नायक, हरियाली बढ़ाने प्रदूषण से लडऩे के लिए वन नायक और गलियोंं की साफ सफाई व विकास कार्यों के लिए पथ नायक चुने जा रहे हैं। मिशन के तहत गांव के स्कूलों में सबके मन की बात कार्यक्रम की शुरूआत की जिसमें सरपंच व युवा विद्यार्थी अपनी समस्याओं को साझा करने के साथ उसके समाधान भी निकालते हैं।
इस अवसर पर प्रदेश के पूर्व डीजीपी एसके दलाल और लिव माय विलेज संस्था के अध्यक्ष महावीर जांगड़ा ने बताया कि लिव माय विलेज की टीम गांवों में जाकर दौरा करेंगी। गांव को अलग पहचान दिलाने के उद्देश्य से गांव की महिलाओं को आत्मनिर्भर किया जाएगा ओर खासकर युवाओं को भी गांव के विकास में अहम योगदान देने के लिए प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गांवों की महिलाएं खुद पर निर्भर रहें इसके लिए गांव को ऐसे संसाधन विकसित किए जाएंगे, जिससे महिलाएं थोड़ा समय निकालकर अपनी आजीविका चला सकेंगी। उन्होंने कहा कि गांव उड़ाना का दौरा करने के बाद ही माय विलेज संस्था की ओर से उड़ाना गांव को रोल मॉडल गांव बनाने के लिए चुना गया है। जिस पर जल्दी ही काम शुरू होगा।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *