August 20, 2019

स्मार्ट एवं हरित ऑटोमोटिव तकनीकों पर होगा मं​थन

एक मजबूत सार्वजनिक परिवाहन व्यवस्था के अभाव में भारत में अक्सर लोगों आवागमन के लिए निजी वहनों को तर्जी देते है और इन वाहनों से निकलने वाला प्रदूषण दिनों—दिन भारत के ज्यादात्तर शहरों का दम घोटता जा रहा है, ऐसे में लोग उम्मीद करते हैं कि हमारे भावी वाहन प्रदूषण के इस दानव से लड़ने के लिए सक्षम बनें। ऐसी ही एक पहल के तहत अंतरराष्ट्रीय ऑटोमोटिव प्रौद्योगिकी केन्द्र (आईसीएटी) 27 नवंबर से 29 नवंबर 2019 के दौरान एनसीआर स्थित मानेसर में ‘न्यूजेन मोबिलिटी समिट 2019’ का आयोजन करेगा। इस शिखर सम्मेलन का आयोजन एसएईएनआईएस, एसएई इंडिया, एसएई इंटरनेशनल, नैट्रिप, डिम्टस, भारी उद्योग विभाग, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, सियाम और एसईएमए के आपसी सहयोग से किया जाएगा।

इस शिखर सम्मेलन का उद्देश्य स्मार्ट एवं हरित भविष्य के लिए उन्नत ऑटोमोटिव तकनीकों के त्वरित अनुपालन, समावेशन एवं विकास हेतु नये विचारों, जानकारियों, वैश्विक अनुभवों, नवाचारों और भावी तकनीकी रुझानों को साझा करना होगा।

इस आयोजन से ऑटोमोटिव उद्योग के सभी हितधारकों को एकजुट करने के लिए उन्हें एक प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी जहां प्रौद्योगिकियों के क्षेत्र में वैश्विक स्तर पर हुई प्रगति को समझने के लिए चर्चाएं होंगी।

इस शिखर सम्मेलन में विभिन्न देश जैसे कि अमेरिका, यूरोप, जापान और अन्य एशियाई देशों के प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक एवं अनुसंधान संगठनों तथा परीक्षण प्रयोगशालाओं में कार्यरत विशेषज्ञ भी शिरकत करेंगे और स्मार्ट एवं हरित प्रौद्योगिकियों के विकास से जुड़े अपने अनुभवों तथा ज्ञान को साझा करेंगे।

इस शिखर सम्मेलन में विभिन्न देश जैसे कि अमेरिका, यूरोप, जापान और अन्य एशियाई देशों के प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक एवं अनुसंधान संगठनों तथा परीक्षण प्रयोगशालाओं में कार्यरत विशेषज्ञ भी शिरकत करेंगे और स्मार्ट एवं हरित प्रौद्योगिकियों के विकास से जुड़े अपने अनुभवों तथा ज्ञान को साझा करेंगे.

आईसीएटी मानेसर के बारे में:

आईसीएटी मानेसर भारत सरकार के भारी उद्योग विभाग के अधीनस्थ नैट्रिप इम्प्लीमेंटेशन सोसायटी (नैटिस) का एक प्रभाग है. यह सभी श्रेणियों के वाहनों के लिए परीक्षण, प्रमाणीकरण, डिजाइन और संगतता (होमोलोगेशन) से जुड़ी सेवाएं मुहैया कराता है.

आईसीएटी मानेसर ने वाहन आकलन और कलपुर्जों के विकास से जुड़ी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियों को अपनाने में ऑटोमोटिव उद्योग की मदद करने का मिशन शुरू किया है, ताकि विश्वसनीयता एवं टिकाऊपन के साथ-साथ नई पीढ़ी के मोबिलिटी सॉल्यूशंस से जुड़े वर्तमान एवं भावी नियम-कायदों का अनुपालन भी सुनिश्चित किया जा सके.

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *