August 21, 2019

राष्ट्रपति ने तांगे वाले सहित समाज की विभिन्न हस्तियों को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिल्ली में पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री पुरस्कार प्रदान किए। राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में लोक गायक तीजन बाई को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया। वहीं, इसरो के वैज्ञानिक नांबी नारायणन, एमडीएच मसालों के मालिक धर्मपाल गुलाटी और पर्वतारोही बछेन्द्री पाल को पद्म भूषण से नवाजा गया। इसके बाद अभिनेता मनोज बाजपेयी, स्वप्न चौधरी, फुटबॉल खिलाड़ी सुनील छेत्री, बम्बेला देवी लेशराम, क्रिकेटर गौतम गंभीर, एच.एस. फुल्का, बास्केट बॉल खिलाड़ी प्रशांति सिंह और डी. प्रकाश राव को पद्म श्री अवॉर्ड मिले।
इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बीते 11 मार्च को 112 पद्म पुरस्कारों में से 55 पद्म पुरस्कार प्रदान किए थे, जिनमें एक पद्म विभूषण, आठ पद्म भूषण और 46 पद्मश्री प्रदान किए गए थे। सम्मान पाने वालों में एक डॉक्टर दंपति सहित प्रतिष्ठित लोग शामिल रहे। देश का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण महाराष्ट्र के थिएटर व्यक्तित्व व लेखक बलवंत मोरेश्वर पुरंदरे को मिला। अन्य श्रेणियों में पद्म पुरस्कार से दिवंगत पत्रकार-लेखक कुलदीप नैय्यर के अलावा कला जगत से प्रभु देवा, शंकर महादेवन और दिवंगत अभिनेता कादर खान को सम्मानित किया गया।
इन पुरस्कारों की घोषणा में एक रोचक नाम महाशय धर्मपाल गुलाटी है, जो बंटवारे के बाद पाकिस्तान के सियालकोट से भारत के अमृतसर आ गए। शुरुआती दिनों में तांगा चलाने से लेकर ए​क मजबूत कारोबारी साम्राज्य के मालिक बनने वाले महाशय धर्मपाल गुलाटी की जीवन यात्रा ने बहुत लोगों को प्रेरित किया है। जीवन के शुरुआती दिनों में काम-धंधा न मिला तो तांगा चलाने लगे। उससे भी मन ऊब गया। मन मसालों के पुराने कारोबार के लिए प्रेरित करता था। फिर अजमल खां रोड पर खोखा बनाकर दाल, तेल, मसालों की दुकान शुरू कर दी। तजुर्बा था, इसलिए काम चल निकला।
महाशय धर्मपाल ने 1959 में एमडीएच फैक्ट्री की नींव रखी थी। भारत में उन्होंने 15 फैक्ट्रियां खोलीं, जो करीब 1,000 डीलरों को मसाला सप्लाई करती हैं। एमडीएच के दुबई और लंदन में भी ऑफिसेज हैं। यह मसाला कंपनी लगभग 100 देशों से एक्सपोर्ट करती है। पांचवीं पास इस शख्स ने पिछले वित्तीय वर्ष में 21 करोड़ रुपये कमाई की जो गोदरेज कन्ज्यूमर के आदि गोदरेज और विवेक गंभीर, हिंदुस्तान युनिलीवर के संजीव मेहता और ITC के वाई. सी. देवेश्वर की कमाई से भी ज्यादा है। MDH के नाम से मशहूर उनकी कंपनी ‘महाशियां दी हट्टी’ को इस साल कुल 213 करोड़ रुपये का लाभ हुआ। इस कंपनी के 80 प्रतिशत हिस्सेदारी गुलाटी के पास हैं।
भारत का तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण पुरस्कार से पंजाब के राजनेता व राज्यसभा सदस्य सुखदेव सिंह ढींढसा, सिस्को के पूर्व सीईओ यूएस-इंडिया स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप फोरम के अध्यक्ष जॉन चैम्बर्स, मलयालम फिल्म अभिनेता विश्वनाथन मोहनलाल और लोकसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर करिया मुंडा सम्मानित किए गए। सांसद हुकुमदेव नारायण यादव और सितार वादक बुधादित्य मुखर्जी पद्मभूषण से सम्मानित होने वालों में से एक हैं। कुलदीप नैय्यर का पुरस्कार उनकी पत्नी भारती ने ग्रहण किया। राष्ट्रपति ने समाज की विभिन्न हस्तियों को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया
पद्मश्री पुरस्कारों से सम्मानित होने वालों में टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरत कमल, रेसलर बजरंग पुनिया, शतरंज खिलाड़ी हरिका द्रोणावल्ली, डॉक्टर इलियास अली व माममेन चांडी, वास्तुकार बिमल पटेल, पुरातत्वविद दिलीप कुमार चक्रवर्ती, शिक्षाविद गणपत आई. पटेल, आध्यात्मिक गुरु बंगारू आदिगलार, मिथिला पेंटिंग कलाकार गोदावरी दत्त, सामाजिक कार्यकर्ताओं- मुक्ताबेन पंकजकुमार दागली, रजनीकांत व बुलु इमाम, बिहार की विधायक भागीरथी देवी, कर्नाटक संगीत से जुड़े कदामपुथारामदोम गोपालन थंत्री जयन के साथ ही पूर्व विदेश सचिव एस. जयशंकर भी शामिल रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *