September 16, 2019

बहराइच की रेनू ने पूरा किया दिवंगत पिता का सपना

हाल ही में घोषित यूपीएसी नतीजों में कई नाम ऐसे रहे जिन्होंने अपने हौसलों और दृढ़ निश्चय के बल पर सबसे प्रतिष्ठित मानी जाने वाली इस परिक्षा में सफलता हासिल की है। खत्रीपुरा मोहल्ले के रहने वाले स्वर्गीय शेष नारायण पांडे अपनी लाडली बेटी रेनू को हमेशा आफिसर बनाना चाहते थे। इसके लिये वो उसे अक्सर प्रोत्साहित भी करते थे।
रेनू की प्रारंभिक शिक्षा मॉर्निंग स्टार एकेडमी में हुई जहाँ पर कक्षा आठ तक कि पढ़ाई के बाद तारा महिला इंटर कालेज से इंटरमीडिएट पास करने के बाद ग्रेजुएशन किया इसी बीच पांच साल पूर्व पिता शेष नारायण की मृत्यु हो गयी । पिता की मौत के बाद चाचा अशोक पांडे व परिवारीजनों ने विषम परिस्थितियों में उसे कोचिंग के लिये दिल्ली भेज दिया । पिता के सपने को पूरा करने के लिये रेनू ने कड़ी मेहनत करते हुये २०१६ में संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा दी। परीक्षा के परिणाम घोषित होने पर रेनू ने नौंवी रेंक हासिल करते हुये पिता के सपने को साकार कर दिया । उनका चयन कामर्शियल टैक्स आफिसर के पद पर हुआ है।
रेनू एक मध्यम वर्गीय परिवार में जन्मी व पली बढ़ी रेनू ने अपने दिवंगत पिता के देखे गये सपने को पूरा करने के दृढ़ निश्चय के तहत अपने पहले ही प्रयास में लोक सेवा आयोग की परीक्षा में सफल होकर कामर्शियल टैक्स आफिसर के पद पर चयनित होकर परिवार का नाम रौशन किया है ।
रेनू की कामयाबी से परिवारीजन काफी खुश है। वही लोगों ने भी उसकी इस कामयाबी के लिये परिजनों को बधाई दी है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *